A big rock fell on the car of people who went to visit Himachal, the death of Sikar’s mother, son and daughter, Sikar had come from Mumbai a month ago, then went to Himachal if he made a plan to visit | हिमाचल में घूमने गए लोगों की गाड़ी पर गिरी बड़ी चट्टान, सीकर के मां,बेटा और बेटी की मौत, एक महीने पहले मुंबई से आए थे सीकर, फिर घूमने का प्लान बना तो चले गए थे हिमाचल


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • A Big Rock Fell On The Car Of People Who Went To Visit Himachal, The Death Of Sikar’s Mother, Son And Daughter, Sikar Had Come From Mumbai A Month Ago, Then Went To Himachal If He Made A Plan To Visit

सीकर8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रिचा, माया और अनुराग

लैंड स्लाइड की चपेट में आने से सीकर का अनुराग बियाणी, उसकी मां माया देवयानी और बहन रिचा बियाणी की मौत हो गई। अनुराग कंपनी सेक्रेटरी के तौर पर मुंबई में काम करता था। उसने अपने पूरे परिवार को वहीं पर शिफ्ट कर लिया था। सीकर के बजाज रोड पर माहेश्वरी धर्मशाला के नजदीक उनका मकान है। 31 वर्षीय अनुराग एक महीने पहले परिवार के साथ राजस्थान घूमने आया था। इसके लिए वे अपने सीकर स्थित घर में ही रह रहे थे। वहीं रिचा की भी पढ़ाई पूरी चुकी थी।

सूचना मिलते ही घर के बाहर जुटते पड़ोसी और रिश्तेदार

सूचना मिलते ही घर के बाहर जुटते पड़ोसी और रिश्तेदार

दो दिन पहले दिल्ली का प्लान बना और वहीं से एक ग्रुप् ट्यूर में शामिल होकर हिमाचल पहुंच गए। पिता नंदकिशोर भी मुंबई में ही निजी कंपनी में काम करते है। पिता नंदकिशोर को अभी उनके एक्सीडेंट होने की जानकारी दी गई है। उन्हें नहीं बताया गया है कि उनकी मौत हो गई है। वहीं बड़ी बहन जो मुंबर्ई में थी उसको पता लगा तो उसकी भी तबीयत खराब हो गई है। मुंबई में उसको अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। एक्सीडेंट की बात सुनते ही नंदकिशोर बियाणी दो बार बेहोश हो चुके है। सीकर में खबर भी आग की तरह फैल गई। आसपास के लोग उनके घर आने लगे।

अनुराग छोटी बहन रिचा के साथ

अनुराग छोटी बहन रिचा के साथ

सीकर में अनुराग के चाचा और उनका परिवार रहता है। तीनों भाई बहनों में से सबसे बड़ी बहन है जो मुंबई में है। उसके बाद अनुराग और उससे छोटी रिचा है। अभी किसी की शादी नहीं हुई है। कल शाम को पांच बजे तीनों का शव सड़क मार्ग से दिल्ली पहुंचेगा। वहां से शव ​परिजनों को सौंपा जाएंगे। वहीं से शव लेकर सीकर पहुंचेंगे।

बता दे कि किन्नौर के बटसेरी में पहाड़ दरकने से हादसा हुआ है। दोपहर में अचानक पहाड़ से चट्टानें गिरने से कई वाहन उसकी चपेट में आए। दुर्घटना में पर्यटकों से भरी टैंपो ट्रैवलर पर एक बड़ा पत्थर गिर गया, जिससे उसमें सवार नौ लोगों की मौत हो गई। इसमें ही सीकर के तीनों सवार थे।

खबरें और भी हैं…



Source link