Blood donation possible immediately after vaccination in America, a gap of 14 days kept in view of safety in India | अमेरिका में वैक्सीनेशन के तुरंत बाद रक्तदान संभव, भारत में सुरक्षा को देखकर रखा गया 14 दिन का अंतर


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Blood Donation Possible Immediately After Vaccination In America, A Gap Of 14 Days Kept In View Of Safety In India

37 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
18 साल का स्वस्थ युवा अगर इस उम्र से हर तीन महीने में रक्तदान शुरू करे और 60 साल का होने तक ऐसा करे, तो 30 गैलन (करीब 116 लीटर) रक्त दान दे चुका होगा। - Dainik Bhaskar

18 साल का स्वस्थ युवा अगर इस उम्र से हर तीन महीने में रक्तदान शुरू करे और 60 साल का होने तक ऐसा करे, तो 30 गैलन (करीब 116 लीटर) रक्त दान दे चुका होगा।

  • कोरोना महामारी के दौर में रक्तदान से जुड़े जरूरी सवालों के जवाब

रक्त जीवन देता है। खास बात ये कि आपका रक्त सिर्फ आपके लिए नहीं, दूसरों के लिए भी जीवनदायी हो सकता है। इसीलिए रक्तदान जरूरी है। विशेषज्ञ बताते हैं कि 18 साल का स्वस्थ युवा अगर इस उम्र से हर तीन महीने में रक्तदान शुरू करे और 60 साल का होने तक ऐसा करे, तो 30 गैलन (करीब 116 लीटर) रक्त दान दे चुका होगा। इतने रक्त से 500 लोगों की जान बचाई जा सकती है। 14 जून को ब्लड डोनर डे है। महामारी के दौर में रक्तदान की जरूरत और इससे जुड़े हर सवाल का जवाब जानिए…

रक्तदान ज्यादा जरूरी…इससे प्रतिरोधक क्षमता नहीं घटती

  • क्या महामारी में रक्तदान कर सकते है?

हां, इस दौर में भी सामान्य रक्तदान किया जा सकता है। बल्कि इस वक्त जब लोगों को रक्त की ज्यादा जरूरत है, कोरोना की सावधानियां बरतते हुए स्वस्थ लोग रक्तदान करें। रक्तदान से कोरोना संक्रमण के प्रति आपकी प्रतिरोधक क्षमता कम नहीं होती है।

  • वैक्सीन लगवाई है, तो रक्तदान कर सकता हूं?

नेशनल ब्लड ट्रांसफ्यूजन काउंसिल की गाइडलाइन के मुताबिक वैक्सीन की हर डोज के 14 दिन बाद आप रक्तदान कर सकते हैं।

  • कोरोना हुआ है, तो कब कर सकेंगे रक्तदान?

कोरोना की पुष्टि हुई है तो 14 दिन इंतजार करना होगा। संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती हुए तो 3 माह रक्तदान नहीं कर सकते।

  • फ्लू के लक्षण हो तो रक्तदान कर सकता हूं?

यदि बुखार नहीं है तो 24 घंटे के लिए पूरी तरह से लक्षण-मुक्त होते ही रक्तदान कर सकते हैं। अगर बुखार था तो 14 दिन इंतजार करना होगा।

  • क्या रक्तदाता की कोरोना जांच होती है?

नहीं। अब तक के अध्ययन में ऐसी पुष्टि नहीं हुई है कि रक्त से संक्रमण फैला हो।

  • ब्लड ग्रुप कोरोना संक्रमण का जोखिम बढ़ता है?

किसी ब्लड ग्रुप से कोरोना का संबंध नहीं है। इससे जोखिम कम या ज्यादा नहीं होता है।

  • टीके के बाद रक्तदान के लिए हर देश में इंतजार होता है?

नहीं। अमेरिका में वैक्सीनेशन के तुरंत बाद रक्तदान कर सकते हैं बशर्ते लाइव वायरस तकनीक से बनी वैक्सीन न लगाई हो। अमेरिका में लग रही तीनों वैक्सीन (फाइजर, मॉडर्ना, जॉनसन एंड जॉनसन) लाइव वायरस वैक्सीन नहीं हैं। अत: साइड इफेक्ट न होने पर तुरंत रक्तदान कर सकते हैं। साइड इफेक्ट हों तो खत्म होने के दो दिन बाद डोनेट कर सकते हैं।

  • भारत में इतना अंतर क्यों?

केंद्रीय स्वास्थ्य महानिदेशक प्रो. सुनील कुमार के मुताबिक यहां अमेरिका की पद्धति नहीं अपनाई जा सकती। वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स और सुरक्षा मानकों को देखते हुए ही देश में 14 दिन का अंतर रखा गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link