Children are playing adult-class games, millions of absurd gaming apps on the net, in one game, children are being told the tricks of caesarean operation | बच्चे खेल रहे वयस्क श्रेणी के गेम, नेट पर लाखों बेतुके गेमिंग एप, एक गेम में तो बच्चों को सीजेरियन ऑपरेशन तक के गुर बताए जा रहे हैं


  • Hindi News
  • International
  • Children Are Playing Adult class Games, Millions Of Absurd Gaming Apps On The Net, In One Game, Children Are Being Told The Tricks Of Caesarean Operation

12 मिनट पहलेलेखक: जेसिका ग्रोस

  • कॉपी लिंक
एप मार्केट में मौजूद मुफ्त गेम की अधिकतर कमाई विज्ञापनों के माध्यम से होती है, कुछ एप बिकते भी हैं। - Dainik Bhaskar

एप मार्केट में मौजूद मुफ्त गेम की अधिकतर कमाई विज्ञापनों के माध्यम से होती है, कुछ एप बिकते भी हैं।

मिडलोथियन, अमेरिका की सारा स्काफेर अपने भाई के लिविंग रूम में टेबलेट पर वीडियो गेम खेल रही पांच साल की भतीजी के साथ बैठी थीं। दो दिन पहले बच्ची ने परिवार के अमेजन शॉपिंग कार्ट से 900 डॉलर के टॉय मंगवाए थे। लेकिन, यह सामान नहीं आया। इसलिए उसके टेबलेट पर नजर रखना जरूरी था।

सारा ने गेम पर नजर डाली तो वह किसी गर्भवती प्रिंसेस के संबंध में था। जाहिर है, यह बच्चों का साधारण गेम नहीं था। गेम के प्लेयर प्रिंसेस की मालिश करते हैं। फिर, वे सीजेरियन ऑपरेशन से प्रसव कराते हैं। गेम में सीजेरियन करने का तरीका बताया गया है। गेम का नाम है-ह्यूज किड सीजेरियन बर्थ इन हॉस्पिटल। ऐसे और अन्य विचित्र किस्म के ढेरों वीडयो गेम इंटरनेट पर मुफ्त मौजूद हैं।

एप मार्केट पर नजर रखने वाली रिसर्च फर्म सेंसर टॉवर के क्रेग चैपल बताते हैं एप मार्केट पर टनों अजीब और साधारण गेम चल रहे हैं। उदाहरण के लिए इनमें स्लैप किंग नामक गेम लोगों को थप्पड़ लगाता है। इन्हें दूसरे गेम पर विज्ञापन या सर्च एड से प्लेयर मिलते हैं। यदि आप एप स्टोर पर फैशन या बेबी गेम्स सर्च कर रहे हैं तो उनके गेम पहले आएंगे। कंपनियां इन मुफ्त गेमों के जरिये विज्ञापनों और एप की खरीदारी से पैसा कमाती हैं। वे कहते हैं, सीजेरियन जैसा गेम तो बहुत बेतुका है।

सेंसर टॉवर की रिपोर्ट के अनुसार 2020 में अकेले फैशन श्रेणी के गेम में 109 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। इन्हें 99 करोड़ से अधिक बार डाउनलोड किया गया है। सीजेरियन प्रसव गेम ड्रेस अप मिक्स कंपनी ने बनाया है। उसने अन्य बेबी केयर गेम बनाए हैं।

इनमें से एक-ओल्ड एल्सा केयर हर बेबी का ब्योरा इस प्रकार है-एल्सा इतनी व्यस्त रहती है कि वह बूढ़ी महिला जैसी दिखती है। उसके चेहर पर झुर्रियां हैं। बाल सफेद हो गए हैं। लेकिन, उसे अपने बच्चे की देखभाल करनी पड़ती है। सुनो लड़कियो हमें बेबी की केयर में एल्सा की मदद करनी चाहिए।

चेहरा धोने के बाद कपड़े पहनाकर उसे पहले से अधिक सुंदर बनाना होगा। सीजेरियन गेम को मेच्योर श्रेणी में रखा गया है। एक अन्य गेम टॉडलर फुट डॉक्टर में डॉक्टर बच्चा बैक्टीरिया मारने के लिए इंजेक्शन लगाता है। सीजेरियन और डॉक्टर जैसे गेम देखते हुए बच्चों के गेम खेलने की बारीकी से निगरानी जरूरी है। बच्चे इन्हें देखकर इस तरह के काम करने के लिए प्रेरित हो सकते हैं। जैसे सारा की भतीजी ने अमेजन से खिलौने और अन्य सामान प्रिंसेस के नवजात शिशु के लिए मंगवाया होगा।

बच्चों के डिवाइस के सिस्टम की जानकारी रखें माता-पिता
बच्चे और टेक्नोलॉजी की विशेषज्ञ आन्या कमेनेट्ज कहती हैं, बच्चों के डिवाइस पर होने वाले सभी कंट्रोल और सिस्टम की जानकारी माता-पिता को होनी चाहिए। हर टेबलेट और कंप्यूटर में ऐसे सिस्टम होते हैं जिनसे पैरेंट्स डिवाइस पर नियंत्रण कर सकते हैं। बच्चों पर नियंत्रण रखने के लिए फेमिली लिंक, फ्री टाइम और पेरेंटल कंट्रोल्स जैसे एप का उपयोग हो सकता है।

देखना चाहिए कि बच्चे क्या डाउनलोड करते हैं। कुछ गेम बच्चों के लिए उपयोगी और अच्छे भी हैं। कामेनेट्ज कहती हैं, बच्चों से इतना खुला संवाद हो कि यदि वे कुछ आपत्तिजनक देखें तो आपसे खुलकर उसके संबंध में बात कर सकें। आखिर जब बच्चे घर के बाहर अपने मित्रों के साथ होंंगे तब उन पर आपका नियंत्रण नहीं होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link