Clubhouse App Chat; What Is Clubhouse Chat? Digvijay Singh To Pakistani Journalist On Revoking Article 370 | दिग्विजय की आर्टिकल 370 पर क्लबहाउस चैट वायरल; क्या है क्लबहाउस चैट? इसके लिए क्या हैं नए आईटी नियम, जानिए सबकुछ


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Clubhouse App Chat; What Is Clubhouse Chat? Digvijay Singh To Pakistani Journalist On Revoking Article 370

नई दिल्ली27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

क्लबहाउस चैट का जिन्न बोतल से एक बार फिर बाहर आ गया है। इस बार जिन्न को कांग्रेस के सीनियर लीडर दिग्विजय सिंह की एक ऑडियो चैट ने बाहर निकलने पर मजबूर किया है। इस चैट के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी कांग्रेस को घेरना शुरू कर दिया। वहीं, कई लोग अब इस ऑडियो चैट को टैग करते हुए दिग्विजय को ट्रोल कर रहे हैं। आखिर इस ऑडियो चैट में दिग्विजय ऐसा क्या बोल रहे हैं? क्या है ये पूरा मामला समझते हैं….

सबसे पहले जानिए क्लबहाउस चैट क्या है?
ये ऑडियो चैट बेस्ड सोशल नेटवर्किंग ऐप है। इसे मार्च 2020 में आईफोन यूजर्स के लिए लॉन्च किया गया था। बाद में एंड्रॉयड यूजर्स के लिए भी लॉन्च कर दिया गया। टेस्ला के सीईओ एलन मस्क और रॉबिनहुड के सीईओ व्लाद टेनेव द्वारा इसका नाम लेने पर इसके यूजर्स की संख्या में जबरदस्त उछाल देखने को मिला था। कोविड-19 महामारी शुरू होने के बाद इसके यूजर्स में लगातार बढ़ोतरी होती चली गई।

मई 2020 में ऐप पर करीब 1,500 यूजर थे। तब इसकी वैल्यू 100 मिलियन डॉलर (करीब 729 करोड़ रुपए) थी। हालांकि जब एलन मस्क ने ऐप पर अपना चैटरूम खोला और रॉबिनहुड के सीईओ व्लाद टेनेव के साथ एक ऑडियो चैट जारी किया, उसके बाद से इस ऐप पर यूजर्स की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ। फरवरी 2021 तक क्लबहाउस के पास 2 मिलियन (20 लाख) से ज्यादा यूजर हो गए थे। वहीं, इसकी वैल्यू 1 बिलियन डॉलर (करीब 7282 करोड़ रुपए) हो गई।

क्लबहाउस चैट कंट्रोवर्सी क्या है?
ClubHouse Leaks ने ट्विटर पर 12 जून को सुबह 4:03AM पर एक ऑडियो जारी किया जिसमें पाकिस्तान के पत्रकार शाहजेब जिलानी कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह से सवाल पूछ रहे हैं। बाद में दिग्विजय ने इस सवाल का जवाब देते हुए कहा है कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो जम्‍मू-कश्‍मीर में आर्टिकल 370 फिर से बहाल करने पर विचार किया जाएगा। ये ऑडियो क्लिप 1 मिनट 19 सेकेंड की है। चैट की कवर इमेज में 16 लोगों की फोटो दिख रही है, जिसमें दिग्विजय भी शामिल हैं। इन चैट को पार्ट-1 और पार्ट-2 में लीक किया गया। हालांकि ये चैट कब की है, इस बारे में कोई जानकारी शेयर नहीं की गई। बाद में इसे बीजेपी के सोशल मीडिया विंग के प्रभारी अमित मालवीय ने भी ट्वीट किया। इसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया।

इस ट्वीट में दिग्विजय सिंग के क्लबहाउस चैट को अटैच किया गया है, आप भी उनकी पूरी बात को सुन सकते हैं।

पाकिस्तानी जर्नलिस्ट के सवाल का जवाब दे रहे थे दिग्विजय
दिग्विजय देश-विदेश के कुछ पत्रकारों से वर्चुअली बात कर रहे थे। इस दौरान शाहजेब जिलानी ने धारा-370 से जुड़ा एक सवाल कांग्रेस महासचिव से पूछा। दावा किया जा रहा है कि जिलानी एक पाकिस्तानी पत्रकार हैं। जिलानी ने पूछा था कि अगर मौजूदा सरकार जाती है और भारत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद दूसरा प्रधानमंत्री मिल जाता है, तो कश्मीर पर आगे का रास्ता क्या होगा? मुझे पता है कि अभी भारत में जो हो रहा है, उसके कारण यह हाशिये पर है। हालांकि, यह एक ऐसा मुद्दा है जो दोनों देशों के बीच इतने लंबे समय से मौजूद है।

बीजेपी क्यों रिएक्ट कर रही है?
दिग्विजय सिंह अपने बयानों की वजह से हमेशा मीडिया में बने रहते हैं। इस बार भी ऐसा ही हुआ है। बीजेपी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 को खत्म किया है। ऐसे में दिग्विजय सिंह का आर्टिकल 370 फिर से बहाल करने पर विचार करने की बात को पकड़कर बीजेपी उन पर निशाना साध रही है। हालांकि, इस मामले में दिग्विजय ने सफाई देते हुए कहा है कि अनपढ़ लोगों की जमात को Shall और Consider में फर्क नहीं पता।

देश का कानून क्या कहता है?
हाईकोर्ट एडवोकेट संजय मेहरा ने बताया कि भारत के संविधान के अनुच्छेद 19 (1) (क) के अंतर्गत वाक्य और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का प्रावधान है। देश का कोई भी व्यक्ति अपने विचार रख सकता है। इस मामले में दिग्विजय के ऊपर कोई राजद्रोह की FIR करवाता है तब भी मुकदमा नहीं बनता। दिग्विजय अकेले आर्टिकल 370 को खत्म नहीं कर सकते। कोई भी पार्टी संसद में बहुमत के आधार पर ही इस काम को कर सकती है।

क्या नए आईटी नियमों के दायरे में आता है क्लबहाउस चैट?

सेंसर टॉवर की रिपोर्ट के मुताबिक, देश में क्लबहाउस चैट को iOS प्लेटफॉर्म पर 90 हजार यूजर्स इस्तेमाल कर रहे हैं। फरवरी 2021 में इसे सबसे ज्यादा 42 हजार iOS यूजर्स ने डाउनलोड किया था। देश में अभी कितने एंड्रॉयड यूजर्स इस ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसका डेटा मौजूद नहीं है। हालांकि गूगल प्ले स्टोर से इसे 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं होता कि इसे 50 लाख यूजर्स इस्तेमाल कर रहे हैं।

दूसरी तरफ, देश के नए आईटी नियमों के मुताबिक जिस सोशल प्लेटफॉर्म पर 50 लाख से ज्यादा यूजर्स हैं, उन्हें एक शिकायत अधिकारी, एक नोडल अधिकारी और एक मुख्य अनुपालन अधिकारी रखने होंगे। ये सभी भारत में रहने वाले होने चाहिए। क्लबहाउस भी एक सोशल ऐप है, लेकिन इसने अब तक ग्रीवांस ऑफिसर नहीं रखा है। इसका मतलब इसके पास देश में 50 लाख से कम यूजर्स हैं।

कंपनियों को ग्रीवांस ऑफिसर की पूरी डिटेल और उनसे कॉन्टैक्ट करने का तरीका स्पष्ट तौर पर बताना होगा। यानी ऑफिसर का कॉन्टैक्ट नंबर, शिकायत करने की प्रोसेस बतानी होगी। जब कोई यूजर शिकायत करता है, तब अधिकारी को 24 घंटे के अंदर शिकायत मिलने की पुष्टि करनी होगी। शिकायत मिलने के 15 दिन के अंदर उसका समाधान करना होगा। यदि किसी कंटेंट पर यूजर ने आपत्ति दर्ज कराई है, तो उसे 36 घंटे के अंदर उस प्लेटफॉर्म से हटाना होगा। वहीं, पोर्नोग्राफी और न्यूडिटी वाला कंटेंट 24 घंटे के अंदर हटाना होगा।

क्लबहाउस ऐप को इस्तेमाल करने का तरीका

  • क्लबहाउस को डाउनलोड करने के बाद यूजर को नाम और मोबाइल नंबर देना होता है। आपको फोन पर एक SMS मिलेगा जो आपका क्लबहाउस के लिए इनविटेशन होगा। अब आप मोबाइल नंबर की मदद से ऐप पर लॉग इन कर सकते हैं। यूजरनेम को इन्वाइट मिलने से पहले चेंज किया जा सकता है।
  • ऐप पर आप किसी क्लब, व्यक्ति या खास टॉपिक को फॉलो कर सकते हैं। आप पहले से बने रूम में एंट्री कर सकते हैं। वहां क्या बातचीत चल रही है, उसे सुन सकते हैं। आप दोस्तों या टॉपिक्स को फॉलो कर सकते हैं।
  • ऐप के मुताबिक ये किसी भी ऑडियो कन्वर्सेशन को स्टोर करके नहीं रखता है। ये लाइव ऑडियो चैटरूम देता है। ऐप को कोई यूजर तब जॉइन कर पाएगा, जब उसे किसी अन्य यूजर से इनविटेशन मिला हो।

खबरें और भी हैं…





Source link