Director Rumy Jafry remembers Sushant Singh Rajput said we spoke exactly year back on June 12 | सुशांत सिंह राजपूत को याद कर बोले डायरेक्टर रूमी जाफरी- ठीक एक साल पहले 12 जून को हमारी बात हुई थी


34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सुशांत सिंह राजपूत को गुजरे साल बीत गया। लेकिन उनकी मौत आज तक राज बनी हुई है। हालांकि उनकी पहली डेथ एनिवर्सरी पर डायरेक्टर रूमी जाफरी ने सुशांत को याद करते हुए उनकी मौत से ठीक दो दिन पहले हुई आखिरी बात का जिक्र किया है। सुशांत और रूमी देश भर में लगे लॉकडाउन से पहले एक फिल्म प्रपोजल पर डिस्कस कर रहे थे।

आज हम उसके बारे में बात कर रहे हैं
एक इंटरव्यू में रूमी सुशांत को याद कर इमोशनल हो गए। उन्होंने कहा- हमारा बहुत ही गहरा रिश्ता था, और हमने कभी बहुत ज्यादा फोटो क्लिक नहीं किए थे। उसे मेरी वाइफ का बनाया हुआ खाना बहुत पसंद था और वह अक्सर घर का बना खाना खाने आता था। जिंदगी बहुत निर्दयी है। एक साल पहले हम उससे बात करते थे और आज हम उसके बारे में बात कर रहे हैं।

रूमी ने सुशांत के लिए कहा कि वह बहुत दिल वाला इंसान था, उसके अंदर एक बच्चा था। वह अक्सर मुझे गले लगता था और मैं उसे पसंद करता था। एक एक्टर और डायरेक्टर के परे हमारा रिश्ता था।

रूमी को आखिरी चैट याद आई
रूमी ने सुशांत से हुई अपनी आखिरी चैट को भी याद किया जो सुशांत की मौत से दो दिन पहले हुई थी। रूमी कहते हैं- ठीक एक साल पहले 12 जून को दोपहर 3 बजे थे, जब मैं और सुशांत बात कर रहे थे। और वह हमारी आखिरी बात बन गई। रूमी की यह फिल्म मई 2020 से फ्लोर पर जाने वाली थी।

लॉकडाउन लगा तो वह फिल्म के लिए परेशान था
रूमी ने आगे बताया कि हमारे पास सब कुछ था, म्यूजिक भी। जब मार्च में लॉकडाउन अनाउंस किया गया तब सुशांत को फिल्म को लेकर थोड़ी चिंता थी। जबकि हम सब आशावादी थे कि अप्रैल के आखिर तक सब नॉर्मल हो जाएगा। लेकिन लॉकडाउन बढ़ता ही गया। रूमी ने कहा कि जब चीजें और डिले होती गई तो उसने मुझसे इसी तरह की कुछ छोटी फिल्म खोजने कहा। जिसे हम छोटी यूनिट के साथ शूट कर सकें। राजेश खन्ना की इत्तेफाक की तरह। हम कहानी देख रहे थे, ये सब बातें मई के लास्ट में हो रही थीं।

खबरें और भी हैं…



Source link