Father killed son in affair of daughter-in-law in Danapur | बहू से था ससुर का प्रेम-प्रसंग, इसलिए बेटे को रास्ते से हटाया; पुलिस ने हत्यारे बाप को किया गिरफ्तार


दानापुर8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस हिरासत में हत्यारा बाप।

बहू के प्रेम में पागल बाप ने ही बेटे की गला दबाकर कर दी थी हत्या। पुलिस ने आज पुख्ता सबूत के साथ हत्यारे बाप को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद 10 दिनों से जारी सस्पेंस का पर्दा आज पूरी तरह उठ गया। पालीगंज के दौलतबिगहा (कोडरा) गांव में बीते 9 जुलाई को एक युवक की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद शव को पास के ही खेत मे फेंक दिया गया था। हत्या की गुत्थी सुलझाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन गई थी, क्योंकि इस मामले में हत्यारे पिता ने गांव के ही अपने पांच विरोधियों को नामजद कर झूठे केस में फंसा दिया था।

पुलिस ने जब केस की जांच की तो बेटे का हत्यारा पिता ही निकला, जिसे गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में पालीगंज इंस्पेक्टर सह प्रशिक्षु डीएसपी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि अपनी बहू के चक्कर मे मिथिलेश रविदास ने बेटे सचिन की हत्या कर दी थी। सचिन की शादी आठ माह पहले ही कराई गई थी। शादी के बाद से ही मिथिलेश ने अपनी बहू पर डोरे डालना शुरू कर दिया था।

बताया गया कि बहू से मिथिलेश रविदास का प्रेम प्रसंग था, जिसको लेकर वह अपने बेटे सचिन को रास्ते से हटाना चाहता था। इसकी भनक सचिन को भी लग गई थी और वह भी अपने पिता को अपने रास्ते से हटा देना चाहता था। सचिन गुजरात में रहकर काम करता था। उसकी हत्या करने के लिए मिथिलेश 8 जुलाई को गुजरात जाने वाला था, लेकिन सचिन 7 जुलाई को अपने गांव पहुंच गया, जहां मौका देखकर 9 जुलाई की रात में ही पिता मिथिलेश ने अपने एक सहयोगी के साथ मिलकर सचिन की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को घर से 100 मीटर की दूरी पर स्थित खेत के बधार में फेंक दिया।

डीएसपी ने बताया कि आरोपी पिता का मोबाइल पुलिस ने जब्त किया और उसकी जांच की। साथ ही उसका सीआरडी निकाला तो पूरा मामला साफ हो गया। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर करोना जांच के बाद जेल भेज दिया। साथ ही एक अन्य आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी जारी है।

प्रशिक्षु डीएसपी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि मृतक सचिन रविदास मिथिलेश रविदास का अपना पुत्र नहीं था। मिथिलेश गुजरात में काम करता था। इसी बीच वहीं की एक महिला से उसकी दोस्ती हो गई और वह उसके साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगा था। सचिन मिथिलेश की महिला मित्र का बेटा था। उसे अपना बेटा बनाकर मिथिलेश अपने गांव दौलत बीघा में रखा था। 8 माह पूर्व मिथिलेश ने सचिन की शादी कराई थी।

खबरें और भी हैं…



Source link