ICICI Prudential Top’s MNC Fund; Multi National Gives 65 Percent Retuns In One Year | MNC फंड के प्रदर्शन में ICICI प्रूडेंशियल टॉप पर, 1 साल में 65% का रिटर्न दिया


  • Hindi News
  • Business
  • ICICI Prudential Top’s MNC Fund; Multi National Gives 65 Percent Retuns In One Year

मुंबई28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • ऐसे फंड 80% हिस्सा MNC कंपनियों के शेयरों में निवेश करते हैं
  • बाकी 20% हिस्सा को अन्य संसाधनों में निवेश किया जा सकता है

पिछले 1 साल में म्यूचुअल फंड की स्कीम्स ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। यहां तक कि बहुराष्ट्रीय कंपनियों (मल्टी नेशनल) में निवेश करने पर भी इन्होंने अच्छा रिटर्न दिया है। 1 साल में इनका रिटर्न 65% तक का रहा है। जबकि इस साल के पहले 6 महीनों में यह 25% रहा है।

इस साल में 25.39% का रिटर्न

आंकड़े बताते हैं कि ICICI प्रूडेंशियल MNC फंड ने इस साल में अब तक 25.39% का रिटर्न दिया है जबकि 1 साल में 65.92 और 2 साल में 30.10% का रिटर्न दिया है। SBI मैग्नम ग्लोबल फंड ने इस साल में 24.26%, 1 साल में 52.32 और 2 सालों में 27.40% का फायदा दिया है। यूटीआई MNC फंड ने इस साल में 14.55, 1 साल में 32.38 और 2 साल में 17.59% का रिटर्न दिया है।

बहुराष्ट्रीय कंपनियों के शेयर अच्छा प्रदर्शन करते हैं

जब भी बात इक्विटी मार्केट्स की आती है बहुराष्ट्रीय कंपनियों के शेयर अच्छा प्रदर्शन करते हैं। ये कंपनियां रोजाना की जरूरतों पर फोकस करती हैं। एक निवेशक के लिए म्यूचुअल फंड सेक्टर में तमाम ऐसे फंड मिल सकते हैं, पर उसमें बेहतर फंड का चुनाव करना भी आपकी बुद्धिमानी को दिखाता है। ऐसे में ICICI प्रूडेंशियल MNC फंड एक बेहतर नाम उभर कर सामने आता है।

तीन तरह का नजरिया अपनाता है फंड

ICICI प्रूडेंशियल MNC फंड तीन तरह का नजरिया अपनाता है। इसमें भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनियां होती हैं जो भारत में बनती हैं और पूरी दुनिया में अपने कारोबार करती हैं। दूसरी मल्टी नेशनल कंपनियां जो भारत में लिस्टेड होती हैं और कारोबार करती हैं, पर विदेशी होती हैँ। तीसरी ग्लोबल मल्टी नेशनल कंपनियां होती हैं जो विदेशी कंपनियां होती हैं और पूरी दुनिया में इनका कारोबार होता है, पर ये भारत में लिस्टेड नहीं होती हैं।

ऑटोमोबाइल, मेटल्स आदि पर फोकस

बहुराष्ट्रीय कंपनियां कंज्यूमर, ऑटोमोबाइल, इंडस्ट्रियल मैन्युफैक्चरिंग, मेटल्स, सूचना एवं प्रौद्योगिकी (IT), सीमेंट और फार्मा पर फोकस करती हैं। इस तरह की कंपनियों में बेहतरीन कॉर्पोरेट गवर्नेंस होता है। इनकी बैलेंसशीट मजबूत होती है और मजबूत ब्रांड के साथ एडवांस टेक्नोलॉजी होती है। इस तरह की कंपनियों के शेयरों में कम उतार-चढ़ाव होता है।

80% हिस्सा MNC कंपनियों के शेयरों में निवेश

सेबी के रेगुलेशन के मुताबिक, इस तरह के फंड कम से कम अपने निवेश का 80% हिस्सा MNC कंपनियों के शेयरों में निवेश करते हैं। बाकी 20% अन्य संसाधनों में निवेश किया जा सकता है। एक निवेशक इस तरह के फंड में साइक्लिकल और सुरक्षित दोनों तरह की थीम में निवेश कर सकता है। इस सेक्टर में जहां बड़ी-बड़ी फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) और फार्मा कंपनियां होती हैं, वहीं दूसरी ओर IT कंपनियां भी होती हैं। इसका मतलब ये कई सेक्टर में कारोबार करती हैं।

जून 2021 तक इंटरनेशनल सिक्योरिटीज में 20% निवेश

ICICI प्रूडेंशियल MNC फंड ने जून 2021 तक 20% इंटरनेशनल सिक्योरिटीज में हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, कंज्यूमर नॉन ड्यूरेबल्स और ऑयल एवं पेट्रोलियम प्रोडक्ट सेक्टर के शेयरों में निवेश किया है। फंड हाउस का डायवर्सिफिकेशन निवेशकों को भारत के बाहर लिस्टेड स्टॉक से संभावित फायदा देने में मदद करता है। जहां तक भारतीय इक्विटीज में एक्सपोजर की बात है, तो यह सभी मार्केट कैपिटलाइजेशन में निवेश करता है।

लॉर्ज कैप में 61.1% का निवेश

इस फंड ने लॉर्ज कैप में 61.1% का निवेश किया है जबकि मिड कैप में 26.5% और स्माल कैप में 12.4% का निवेश किया है। जहां तक सेक्टर की बात है तो यह घरेलू बाजार में कंज्यूमर नॉन ड्यूरेबल्स, सॉफ्टवेयर, ऑटो, इंडस्ट्रियल प्रोडक्ट और फार्मा में कुल पोर्टफोलियो का 50% निवेश करता है। 2019 में इस फंड को लांच किया गया था। यह लगातार इस कैटेगरी में अच्छा प्रदर्शन करता है।

खबरें और भी हैं…



Source link