India’s apparel exports to register 40% growth in FY21: AEPC | चालू वित्त वर्ष में अपैरल निर्यात में 40% की ग्रोथ रहेगी, 22 बिलियन डॉलर के एक्सपोर्ट का अनुमान


नई दिल्ली23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के बावजूद भारत कम समय में पीपीई किट बनाने में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश बन गया है।

  • पिछले साल भारत का अपैरल निर्यात 15.4 बिलियन डॉलर रहा था
  • न्यू मेडिकल टेक्सटाइल का निर्यात बढ़ने से मिलेगा फायदा

अपैरल एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (एईपीसी) के चेयरमैन ए शक्तिविल ने गुरुवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष में देश के अपैरल निर्यात में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है। एईपीसी की 41वीं सालाना आम बैठक (एजीएम) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए शक्तिविल ने कहा कि हम अपैरल एक्सपोर्ट में इस साल 40 फीसदी की ग्रोथ को ध्यान में रखकर काम कर रहे हैं। इस लक्ष्य को पाने के लिए न्यू मेडिकल टेक्सटाइल के एक्सपोर्ट पर खास ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस ग्रोथ के साथ भारत का अपैरल एक्सपोर्ट वित्त वर्ष 2020-21 में बढ़कर 22 बिलियन डॉलर पर पहुंच जाएगा। पिछले साल 15.4 बिलियन डॉलर के अपैरल का निर्यात हुआ था।

प्रत्येक मुसीबत नए विकल्प पैदा करती है

शक्तिविल ने कहा कि कोविड-19 मॉडर्न मानव इतिहास का सबसे हानिकारक स्वास्थ्य संकट है। भारत समेत पूरी दुनिया तेजी से विकास कर रही है और कोरोना के बाद नए प्रकार के विकास के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मुसीबत कई प्रकार के नए विकल्प पैदा करती है। अपने संबोधन के दौरान शक्तिविल ने टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी का आभार जताया। शक्तिविल ने कहा कि टेक्सटाइल मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों से आग्रह के अलावा अपैरल इंडस्ट्री को पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (पीपीई) किट बनाने की अनुमति दी। इससे भारत दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा पीपीई किट निर्माता देश बन गया है। कोरोनावायरस महामारी के बावजूद भारत ने कम समय में यह उपलब्धि हासिल की है।

एमएमएफ की ओर बदलाव की जरूरत

शक्तिविल ने आगे कहा कि अब समय की जरूरत है कि हम मैन मेड फाइबर (एमएमएफ) की ओर बदलाव करें। हम अपैरल सेक्टर में तेजी के लिए कई एमएमएफ उत्पादकों से एमओयू साइन करने की योजना बना रहे हैं। इसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड जैसे उत्पादक भी शामिल हैं। ग्लोबल मार्केट में भारत के टेक्सटाइल एक्सपोर्ट की भागीदारी बढ़ाने में एमएमएफ एक बड़ी भूमिका निभाएगा।

0



Source link