Israeli Research On vaccination । 80% vaccinated carriers didn’t infect । immunized COVID-19 People । Prime Minister Naftali Bennett | इजराइल की रिसर्च में दावा- वैक्सीन लगवा चुके 80% लोग वायरस के संपर्क में आने पर दूसरों को संक्रमित नहीं करते


  • Hindi News
  • International
  • Israeli Research On Vaccination । 80% Vaccinated Carriers Didn’t Infect । Immunized COVID 19 People । Prime Minister Naftali Bennett

तेल अवीव3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

तस्वीर इजराइल की राजधानी तेल अवीव की सड़कों से गुजरते लोगों की है। यहां ज्यादातर लोग फेस मास्क पहनने लगे हैं। -फाइल फोटो

दुनियाभर में वैक्सीनेशन को कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बड़ा हथियार माना जा रहा है। अब इजराइल से भी वैक्सीनेशन को लेकर एक अच्छी खबर सामने आई है। यहां के स्वास्थ्य मंत्रालय की रिसर्च में सामने आया है कि वैक्सीन लगवाने वाले 80% लोग कोरोना संक्रमित होने के बाद भी वायरस दूसरों तक नहीं फैलाते हैं। इजराइली सरकार ने ये रिसर्च रेस्टोरेंट, जिम, इवेंट हॉल और म्यूजिक कंसर्ट में पहुंचे लोगों का सैंपल लेकर की है।

टाइम्स ऑफ इजराइल की रिपोर्ट के मुताबिक रिसर्च में सामने आया है कि वैक्सीन के डोज ले चुके 10% लोग एक व्यक्ति तक संक्रमण फैलाते हैं, जबकि 3% वैक्सीनेट लोग 2 या 3 लोगों तक वायरस पहुंचा देते हैं। बचे 7% लोगों को लेकर कुछ स्पष्ट डेटा सामने नहीं आया है। ये संक्रमण फैला भी सकते हैं और नहीं भी। हालांकि, रिपोर्ट में ये साफ नहीं किया गया है कि कितने लोगों पर ये रिसर्च की गई है।

ट्रैवलिंग के लिए ग्रीन पास जरूरी
इजराइल में ट्रैवलिंग के लिए ग्रीन पास जरूरी कर दिया गया है। बड़े-बड़े इवेंट्स में लोगों की भारी भीड़ देखकर ये निर्णय लिया गया है। ये उन लोगों को मिलता है, जो वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके होते हैं। इजराइल में किसी बड़े कार्यक्रम में शामिल होने के लिए ग्रीन पास या 72 घंटे पहले कराए गए कोविड टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होती है। जल्द ही ग्रीन पास को स्पोर्ट्स इंवेट, रेस्टोरेंट, कांफ्रेंस और टूरिस्ट अट्रेक्शन और पूजास्थल में भी लागू करने का प्लान है।

10 लाख लोगों का वैक्सीन लगवाने से इनकार
इजराइल में अब तक सरकार की तरफ से फ्री टेस्ट कराने की सुविधा थी, लेकिन प्रधानमंत्री नेफ्टाली बेनेट कह चुके हैं कि अब वैक्सीन न लगवाने वाले लोगों को कोरोना टेस्ट खुद के खर्चे पर करवाना होगा। उन्होंने कहा है कि जो लोग वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते उनके लिए टेक्स भरने वालों के पैसे बर्बाद नहीं किए जाएंगे।

दरअसल, इजराइल के करीब 1 मिलियन (10 लाख) लोगों ने वैक्सीन लगवाने से इनकार कर दिया है। सरकार का मानना है कि इन लोगों की वजह से देश में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है। यदि केस बढ़ते हैं तो पूरे इजराइल में चौथी बार लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है।

52.9 लाख लोगों को लग चुके दोनों डोज
आंकड़ों के मुताबिक 90 लाख आबादी वाले इजराइल में 52.9 लाख लोगों को वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं। यानी इजराइल के 58.5% आबादी पूरी तरह से वैक्सीनेट हो चुकी है।

अब तक 6,458 संक्रमितों की मौत
इजराइल में शनिवार को कोरोना के 1,421 नए केस सामने आए। 415 रिकवर हुए और 1 संक्रमित की मौत हो गई। यहां अब 859,398 कोरोना केस आ चुके हैं। 841,769 रिकवर हो चुके हैं और 6,458 की मौत हो चुकी है। 11,171 मरीजों का अब भी इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं…



Source link