Patna Mayor Sita Sahu News Updates: Only 4 Votes In Favor Of No-Confidence Motion | बच गई मेयर सीता साहू की कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में पड़े सिर्फ 4 वोट, 38 की थी जरूरत


पटना13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अविश्वास प्रस्ताव गिरने के बाद खुशी मनातीं मेयर सीता साहू और उनके समर्थक।

  • मेयर के खिलाफ था गणित, रातभर चले गुणाभाग में बदली स्थिति
  • अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में चार और विरोध में चार वोट पड़े

पटना की मेयर सीता साहू की कुर्सी बच गई है। शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान हुआ। प्रस्ताव के पक्ष में सिर्फ चार वोट पड़े। प्रस्ताव पास कराने के लिए 38 वोट की जरूरत थी। प्रस्ताव के विरोध में 4 वोट पड़े। इसके साथ ही मेयर गुट ने एक बार फिर विरोधियों को चारों खाने चित किया और अपनी ताकत साबित की। इससे पहले भी एक बार विरोधियों का अविश्वास प्रस्ताव गिर गया था।

सिर्फ 27 पार्षद हुए उपस्थित
कोरोना के संक्रमण के खतरे के चलते अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के लिए बैठक पटना के एसके मेमोरियल हॉल में आयोजित की गई। 75 सीट वाले पटना नगर निगम बोर्ड में विपक्षी खेमे को प्रस्ताव पास कराने के लिए 38 वोट की जरूरत थी। प्रस्ताव की अधियाचना में 41 पार्षदों ने हस्ताक्षर किए थे, लेकिन जब मतदान का समय आया तो मात्र 27 पार्षद ही बैठक में आए।

12:30 बजे बैठक शुरू हुई। मेयर के नहीं आने पर विपक्षी गुट ने नगर निगम की बैठक का बहिष्कार किया। इसके बाद डिप्टी मेयर ने बैठक को स्थगित कर दिया। कुछ देर बाद मेयर गुट की ओर से बैठक शुरू कराई गई। वोटिंग हुआ तो अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में चार और विरोध में चार वोट पड़े। इसके साथ ही सीता साहू के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया।

मेयर के खिलाफ था गणित, रातभर चले गुणाभाग में बदली स्थिति
मेयर गुट के पास 28 पार्षदों का समर्थन माना जा रहा था। ऐसे में भाजपा के कई बड़े नेताओं से भी संपर्क किया गया। भाजपा के समर्थक माने जाने वाले पार्षदों को विधानसभा चुनाव का हवाला दिया गया। रातभर चले गुणाभाग से स्थिति बदल गई। नतीजा यह रहा कि मेयर गुट विपक्ष के घोषित 41 में से अधिकतर पार्षदों को मतदान से दूर रखने में कामयाब हो गया।

0



Source link