Police caught fake liquor factory in Agra, supply was on contract | स्प्रिट से शराब बनाकर असली गत्तों में ठेकों पर सप्लाई करते थे, पुलिस ने छापा मारकर 4200 लीटर केमिकल सहित 45 लाख की शराब पकड़ी


आगरा26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस ने नकली शराब बेचते हुए 2 लोगों को रंगे हाथ पकड़ा है। कुल 4 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। 10 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

आगरा के थाना अछनेरा क्षेत्र में पुलिस ने अवैध शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए लगभग 45 लाख की नकली शराब बरामद की है। पुलिस ने मौके से शराब बनाने का सामान भी बरामद किया है। इसके अलावा शराब ठेकों पर नकली शराब बेचते हुए 2 लोगों को रंगे हाथ पकड़ा गया है। मामले में कुल 4 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। वहीं 10 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। एसएसपी मुनिराज ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान यह जानकारी दी है।

थाना अछनेरा सीओ महेश कुमार के नेतृत्व में दो दिन पहले महुअर गांव के बाहर हर्ष ढाबे के पीछे नकली शराब बनाने की फैक्ट्री पकड़ी थी। मौके से विष्णु और रामवीर नाम के दो आरोपी गिरफ्तार किए गए थे और संचालक सहदेव व साथी अनुज फरार हो गए थे। उस वक्त वहां पर कई कमरों में ताला लगा हुआ होने के कारण पुलिस ने अगले दिन तक जांच जारी रही थी।

देसी ठेकों पर बिकती थी नकली शराब

पुलिस की जांच में थाना सिकन्दरा के जौपुरा और रुनकता क्षेत्र में देशी शराब के दो ठेकों से शराब की पेटियां और गत्ते बरामद हुए। मौके से पुष्पेंद्र और भगवान नामक दो सेल्समैन को हिरासत में लिया गया और मालिकों को मुकदमे में नामजद किया गया।

ऐसे करते थे सप्लाई कि चेकिंग में भी नहीं होती थी पकड़

शातिर अपराधियों ने माल सप्लाई का तरीका बहुत अलग था। यह शराब ठेकों से हॉलमार्क लगे गत्ते खरीदते थे और उनमें क्वाटर भरकर सप्लाई करते थे। चेकिंग के दौरान क्यूआर स्कैन करने पर माल असली होने की पुष्टि हो जाती थी। क्वाटरों को देसी शराब के ठेकों पर सप्लाई किया जाता था, जहां दुकानदार असली शराब के साथ मिलाकर माल बेच देते थे।

यह माल हुआ बरामद

पुलिस को नकली शराब की 69 पेटियों में 3105 पौव्वा शराब और दो शराब ठेकों से एक-एक पेटी व 5 गत्ते बरामद हुए हैं। इसके साथ ही 21 ड्रमों में 4200 लीटर स्प्रिट, 1 टंकी में 50 लीटर तैयार नकली शराब, 7 लीटर कैरामल कैमिकल, फाइटर ब्रांड के 103 रैपर, 252 खाली पौव्वे, 64 नकली क्यूआरकोड, 197 ढक्कन, मोटरसाइकिल, पम्प, महिन्द्रा पिकअप गाड़ी और बर्तन बरामद हुए हैं। पुलिस फिलहाल फैक्ट्री संचालक सहदेव शर्मा,अनुज, पुष्पेंद्र, हरेंद्र,अशोक और नरेंद्र की तलाश कर रही है।

शराब के शौकीनों को सावधान होने की जरूरत

अगर आप देशी शराब के ठेके से शराब खरीद रहें हैं तो बोतल के ढक्कन की सील और क्यूआर कोड की चेकिंग जरूर कर लें। आज हुए खुलासे में ठेकों पर नकली शराब खपाए जाने की बात सामने आई है।जानकारों की मानें तो नकली शराब बनाने के दौरान केमिकल और अल्कोहल की मात्रा कम ज्यादा होने पर पीने वाले कि आंखें खराब हो सकती हैं और तीव्रता अधिक बढ़ने पर मौत तक हो सकती है।

खबरें और भी हैं…



Source link