Webinar organized in IIT Dhanbad, Ayurveda can also improve serious diseases- Dr. Kumar | आईआईटी धनबाद में वेबिनार आयोजित, आयुर्वेद से भी संभव है गंभीर बीमारियाें में सुधार- डाॅ कुमार


धनबाद2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

फाइल फोटो

  • छात्रों ने पूछे सवाल, डाॅ अभिषेक ने दिया जवाब
  • उन्हाेंने आयुर्वेद के मूल, वात, पित्त, कफ की जानकारी और शरीर में होने वाली बीमारी, स्ट्रेस आदि पर चर्चा की

आईआईटी आईएसएम, धनबाद के रिदम क्लब की ओर से रविवार काे आयुर्वेद से संबंधित भ्रम और तथ्य पर वेबिनार का आयाेजन किया गया। इसमें श्रीश्री तत्व आर्ट ऑफ लिविंग इंटरनेशनल आश्रम बेंगलुरु के सीनियर कंसल्टेंट डाॅ अभिषेक कुमार ने स्टूडेंट्स काे संबाेधित किया। उन्हाेंने आयुर्वेद के मूल, वात, पित्त, कफ की जानकारी और शरीर में होने वाली बीमारी, स्ट्रेस आदि पर चर्चा की। बताया कि बड़ी से बड़ी बीमारी का यदि पहले आयुर्वेदिक उपचार कराया जाए तो उसमें अत्यंत सुधार किया जा सकता है।

मिथक के ताैर पर कई बातें सामने आती हैं, मसलन आयुर्वेदिक दवा काम करने में अधिक समय लेती है और बहुत प्रभावी नहीं होती है। आयुर्वेद एक पुरानी और अप्रचलित प्रणाली है। आयुर्वेद दवाओं में नैदानिक ​​परीक्षण की कमी होती है और आयुर्वेदिक उपचार के लिए डॉक्टर की जरूरत नहीं होती है। वेबिनार में शामिल विद्यार्थियाें ने भी कई सवाल पूछे, जिसका डाॅ अभिषेक ने जवाब दिया। कहा कि आम बीमारी से लेकर गंभीर रोगों में भी आयुर्वेद सुधार कर सकता है। मधुमेह, फंगल इंफेक्शन, एनेमिया, मेंटल टेंशन जैसी कई बीमारियां दूर हाे सकती हैं, यदि समय पर उपचार किया जाए। वेबिनार में प्राे एमके सिंह, शिक्षिका सोनाली सिंह, प्रशिक्षक मयंक सिंह, क्लब से हर्षिका, दिवाकर, शिवांगी, उत्तम, शुभम, पायल, एकता, विकास, रौनक, विभु आदि महत्वपूर्ण योगदान रहा।

खबरें और भी हैं…



Source link